Jhalko Media

आखिर सांप बार बार अपनी जीभ बाहर क्यों निकालते हैं? जान लीजिये वजह

 | 
आखिर सांप बार बार अपनी जीभ बाहर क्यों निकालते हैं? जान लीजिये वजह
Jhalko Media, Digital Desk - Snake Facts: सांप, जो कि सबसे जहरीले जीवों में से एक माने जाते हैं, अपनी जीभ बाहर निकालने का कारण कभी-कभी हमें आश्चर्यचकित करते हैं। जब ये सांप इस क्रिया को अक्सर करते हैं, तो इसमें एक विशेष साइंस होता है।

जानिये क्या है सांप के बार-बार जीभ बाहर निकालने की साइंस

विज्ञान के अनुसार, सांप जब बार-बार अपनी जीभ बाहर निकालते हैं, तो इसका तात्पर्य है कि वे अपनी जीभ का उपयोग करके आसपास के वातावरण को 'चख' रहे हैं। इसका मतलब है कि वे जीभ की सहायता से आसपास के माहौल को समझने का प्रयास कर रहे हैं और उसकी गंध को महसूस कर रहे हैं।

गंध सूंघने में सहायक

सांपों की दृष्टि और सुनने की क्षमता काफी कमजोर होती है। उन्हें कोई आवाज अच्छे से सुनाई नहीं देती, लेकिन उनकी गंध सूंघने की क्षमता बहुत अच्छी होती है। जब वे जीभ हिलाते हैं, तो वे आसपास के वातावरण में छोटे-छोटे नमी के कणों में मौजूद गंधों को इकट्ठा कर लेते हैं और उस गंध को समझने का प्रयास करते हैं।

मस्तिष्क को भेजते संदेश

जीभ की हिलाई गंध को सूंघ लेने के बाद, सांप उसे 'जैकबसन ऑर्गन' नामक एक अंग में डालता है, जो कि उसके मुंह के ऊपरी हिस्से में होता है। यहां रहने वाले केमिकल रिसेप्टर्स गंध के कणों से जुड़ जाते हैं और संदेश को सांप के मस्तिष्क में भेजते हैं। इस प्रक्रिया से संदेश मिलता है कि आसपास कौन-कौन से जीव मौजूद हैं और उनकी गतिविधियों का पता चलता है।