Jhalko Media

हरियाणा सरकार का सरपंचों को बड़ा तोहफा, सीमा हटाकर गांवों को मिली 50 फीसदी बजट की आजादी

हरियाणा सरपंचों को तोहफा: सीमा हटाकर 50 फीसदी बजट पर खुदा आसमान में हरियाणा के गांवों के विकास का सफर
 | 
हरियाणा सरकार का सरपंचों को बड़ा तोहफा, सीमा हटाकर गांवों को मिली 50 फीसदी बजट की आजादी
हरियाणा, 11 जनवरी: Haryana News- नए साल के साथ हरियाणा सरकार ने गांवों को बड़ा तोहफा दिया है, जिससे पंचायतें अब अपनी इच्छानुसार पंचायत बजट और आय का 50 फीसदी हिस्सा गांवों के विकास में लगा सकेंगी। इस नई पहल के तहत, सीमा को हटा दिया गया है जिससे ग्राम पंचायतें अब 25 लाख रुपये से ज्यादा के विकास कार्यों के लिए खर्च कर सकेंगी।

सीमा हटाई गई और नई राहें खुलीं

हरियाणा सरकार ने पंचायतों को विकास के लिए नई राहें खोलने का कदम उठाया है। इस नए निर्णय के अनुसार, पंचायतें अब अपनी इच्छानुसार पंचायत बजट और आय का 50 फीसदी हिस्सा गांवों के विकास के लिए खर्च कर सकेंगी। सीमा को हटाने से पंचायतें अब 25 लाख रुपये से ज्यादा के विकास कार्यों के लिए भी बजट लगा सकेंगी, जो गांवों के विकास को गति मिलेगी।

बड़े गांवों को होगा सबसे बड़ा फायदा

इस निर्णय से सबसे बड़ा फायदा उन बड़े गांवों को होगा, जहां पंचायतों की सालाना आय करोड़ों रुपये में है। अब इन गांवों को विकास के लिए और भी ज्यादा आर्थिक साधन मिलेगा, जिससे गांवों में सामाजिक और आर्थिक सुधार हो सकती है। इस से विकास के क्षेत्र में नई ऊर्जा का संचार होगा और गांवीयों को और भी अधिक सुविधाएं मिलेंगी।

पंचायतों को मिली आजादी

पंचायतों को इस नए प्रस्ताव के बारे में आजादी मिलने से हरियाणा के गांवों में विकास कार्यों को गति मिलेगी और सामाजिक, आर्थिक सुधार होगा। इस से गांवों में जनसंख्या को भी बेहतर सुविधाएं मिलेंगी और समृद्धि की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है।

नाराजगी के बावजूद प्रस्ताव की स्वागत

हालांकि, हरियाणा सरपंच एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष रणबीर समैण ने सरकार के इस फैसले पर नाराजगी जताई है, लेकिन प्रस्ताव को गांवों में स्वागत मिला है। गांवीयों को विकास के लिए और भी अधिक संबंधित हक और आर्थिक साधन मिलने से वे खुश हैं और आशा है कि इससे गांवों की स्थिति में सुधार होगा। इस नए पहल से हरियाणा के गांवों में विकास का नया दौर आरंभ हो रहा है, जिससे ग्रामीणों को और भी अधिक विकास और सुविधाएं मिलेंगी।