Jhalko Media

सऊदी अरब में पहली बार खुलेगा दारु का सरकारी ठेका; गैर-मुस्लिमों के लिए विशेष

 | 
सऊदी अरब में पहली बार खुलेगा दारु का सरकारी ठेका; गैर-मुस्लिमों के लिए विशेष
रियाद: सऊदी अरब की राजधानी रियाद में एक ऐतिहासिक कदम के तौर पर पहली बार एक शराब की दुकान खुलने की तैयारी में है, जो विशेष रूप से गैर-मुस्लिम राजनयिकों के लिए होगी। इस दुकान को खोलने के लिए ग्राहकों से मोबाइल ऐप के माध्यम से पंजीकरण करवाना होगा और सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय से क्लीयरेंस कोड प्राप्त करना होगा। इसके साथ ही, राजनयिकों को महीने का एक कोटा तय किया गया है जिससे ज्यादा शराब नहीं खरीदा जा सकेगा। इस नए कदम के पीछे यह उद्देश्य है कि राजनयिकों को बेहतर सेवाएं मिलें और देश में पर्यटन और व्यापार को बढ़ावा मिले। सऊदी अरब में शराब का पूर्ण प्रतिबंध है, जो इस्लाम के दो सबसे पवित्र स्थानों की मेजबानी के कारण है। रियाद के डिप्लोमैटिक क्वार्टर में स्थित इस दुकान का उद्दीपन मुहम्मद बिन सलमान के सुधार के तहत किया जा रहा है। दस्तावेजों के अनुसार, शराब की दुकान रियाद के डिप्लोमैटिक क्वार्टर में स्थित होगी, जहां कई देशों के दूतावास हैं और वहां विदेशी राजनयिक भी रहते हैं। यह स्पष्ट नहीं है कि अन्य गैर-मुस्लिम प्रवासीयों को यहां शराब मिलेगी या नहीं, लेकिन उम्मीद है कि इसे अन्य देशों के नागरिकों के लिए भी खोला जाएगा। शराब की दुकान का खुलने का अनुमानित समय है आने वाले हफ्तों में। इस कदम से यह नजर आता है कि सऊदी अरब अपने परंपरागत नियमों में सुधार कर रहा है और अब वह खुले मंच पर अन्यायपूर्ण प्रतिबंधों को हटा रहा है, जिससे देश में विकास की गति मिले।