Jhalko Media

Mewaram Jain: कौन है मेवाराम जैन; क्यों है सुर्खियों में?

 | 
Mewaram Jain: कौन है मेवाराम जैन; क्यों है सुर्खियों में?
झलको जयपुर। राजस्थान के बाड़मेर से पूर्व विधायक मेवाराम जैन के मामले में जस्टिस ने सुनवाई से इनकार कर दिया है। जस्टिस कुलदीप माथुर ने सुनवाई से इनकार करते हुए इसे अन्य बेंच में भेजने के आदेश दिए हैं। पीड़िता ने जल्द सुनवाई के लिए हाईकोर्ट में प्रार्थना पत्र लगाया था, जिस पर 8 जनवरी को सुनवाई के बाद 10 तारीख को केस डायरी पेश करने का आदेश दिया था। बुधवार को सुनवाई होनी थी। अब चीफ जस्टिस के निर्णय के बाद अन्य बेंच में मामले की सुनवाई होगी। 9 लोगों पर पीड़िता ने 20 दिसंबर को दर्ज कराया था केस बता दें कि जोधपुर पश्चिम के राजीव गांधी नगर थाने में पीड़िता ने पूर्व विधायक मेवाराम जैन सहित 9 लोगों के खिलाफ पॉक्सो सहित 18 धाराओं में गैंगरेप का मामला दर्ज कराया था। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने 20 दिसंबर को मेवाराम, रामस्वरूप आचार्य, कोतवाल गंगाराम खावा, दाऊद खां, बाड़मेर डीसीपी आनंद सिंह राजपुरोहित, बाड़मेर के प्रधान प्रतिनिधि गिरधरसिंह सोढ़ा, नगर परिषद उपसभापति सुरतान सिंह, प्रवीण सेठिया, गोपाल सिंह राजपुरोहित के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। अब 25 जनवरी को होगी सुनवाई केस दर्ज होने के बाद मेवाराम ने एफआईआर को निरस्त करने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। जिस पर कोर्ट ने 22 दिसंबर को मेवाराम जैन सहित अन्य लोगों की गिरफ्तारी पर रोक लगाते हुए जांच में सहयोग के आदेश दिए थे। मामले की अगली सुनवाई 25 जनवरी को तय की गई है। जानें शहजाद पूनावाला ने एक्स पर क्या कुछ लिखा... बता दें कि पांच दिन पहले भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने मेवाराम जैन का वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर शेयर किया था। शहजाद ने एक्स पर लिखा था कि 70 साल का कांग्रेसी अपनी अय्याशियों के लिए नाबालिग लड़कियों की मांग कर रहा था। शहजाद ने यह भी लिखा था कि वह गांधी परिवार का बेहद करीबी है। जिस तरह से शांति धारीवाल की टिकट कन्फर्म रहती है उसी तरह राजस्थान के पूर्व मंत्री मेवाराम की भी कांग्रेस से टिकट कन्फर्म रहती है। राहुल गांधी उसकी करतूतों के बारे में सबकुछ जानते थे। इसके बावजूद यह सुनिश्चित किया कि उन्हें पार्टी से चुनाव लड़ने का टिकट मिले। राहुल गांधी ने मेवाराम का समर्थन करते हुए उनके साथ तस्वीर भी ली थी। दो वीडियो हुए थे वायरल मेवाराम के दो वीडियो वायरल हुए थे। एक वीडियो 7 मिनट 11 सेकंड का था, जबकि दूसरा वीडियो 18 मिनट 45 सेकंड का था। वीडियो में साफ दिख रहा था कि एक महिला मोबाइल का कैमरा ऑन कर आलमारी में रखती है। इसके बाद मेवाराम की एंट्री होती है। मेवाराम जैन वीडियो में शराब पीते हुए और महिला के साथ अश्लील हरकत करते हुए नजर आ रहे थे। वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस ने मेवाराम की प्राथमिक सदस्यता रद्द कर दी थी। हालांकि मेवाराम ने खुद पर लगे आरोपों को खारिज किया था। महिला पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था। Mewaram Jain: Who is Mewaram Jain? Why is it in the headlines?