Jhalko Media

National Girl Child Day 2024: आज है 'राष्ट्रीय बालिका दिवस', जानिये 24 जनवरी ही क्यों चुना गया दिन?

 | 
National Girl Child Day 2024: आज है 'राष्ट्रीय बालिका दिवस', जानिये 24 जनवरी ही क्यों चुना गया दिन?
National Girl Child Day 2024: आज यानी 24 जनवरी को हर साल भारत में मनाया जाने वाला राष्ट्रीय बालिका दिवस हमें बालिकाओं के अधिकारों के प्रति जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण अवसर प्रदान करता है। इस दिन का आयोजन भारत में जैंडर परिष्कृति के खिलाफ एक प्रमुख पहलू है, जिसका मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को समाज में समान अवसर और सम्मान के साथ विकास के लिए प्रेरित करना है। आइये जानते है इस विशेष दिन के बारे में....

राष्ट्रीय बालिका दिवस का इतिहास (History of National Girl Child Day) -

राष्ट्रीय बालिका दिवस (National Girl Child Day) का आयोजन भारतीय इतिहास में महत्वपूर्ण है। 24 जनवरी 1966 को इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) ने महिला प्रधानमंत्री बनकर शपथ ली थी, और इस मौके पर उनके समर्पण और उनकी दृढ़ इच्छा को याद करते हुए 24 जनवरी को राष्ट्रीय बालिका दिवस (National Girl Child Day) के रूप में मनाया जाना शुरू हुआ। यह एक महत्वपूर्ण कारगर कदम था जो महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण बदलाव की ओर प्रेरित करता है।

बालिका दिवस मनाने का उद्देश्य-

राष्ट्रीय बालिका दिवस का मुख्य उद्देश्य भारतीय समाज में बालिकाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। इस दिन के माध्यम से हमें यह याद दिलाया जाता है कि समाज में समानता और समरसता की भावना को बढ़ावा देना हम सभी की जिम्मेदारी है। इसके साथ ही, बालिकाओं को समाज में समर्थन, शिक्षा, और समरसता के साथ विकास के लिए समान अवसर प्रदान करने का भी मकसद है।

बालिका दिवस 2024 थीम (Girls' Day 2024 Theme) -

इस वर्ष का राष्ट्रीय बालिका दिवस विशेष थीम विकसित की गई है, जो बालिकाओं के समृद्धि और समाज में उनके योगदान को बढ़ावा देने पर केंद्रित है। इस साल की थीम के तहत, हम सभी को बालिकाओं के सामाजिक और आर्थिक समाज में शानदार योगदान की महत्वपूर्णता पर विचार करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। राष्ट्रीय बालिका दिवस 2024 के अवसर पर, हम सभी को इस महत्वपूर्ण दिन को याद करते हुए बालिकाओं के अधिकारों का समर्थन करने और एक समरस समाज की दिशा में सक्रिय योगदान करने का संकल्प लेना चाहिए।