Jhalko Media

हरियाणा में 1.80 लाख से कम आय वाले परिवारों के 60000 युवाओं को मिलेगी नौकरी, देखें सीएम खट्टर की अन्य घोषणाएं

 | 
हरियाणा में 1.80 लाख से कम आय वाले परिवारों के 60000 युवाओं को मिलेगी नौकरी, देखें सीएम खट्टर की अन्य घोषणाएं
Jhalko Media, Haryana News: हरियाणा सीएम मनोहर लाल ने कुरूक्षेत्र में स्वामी विवेकानन्द की जयंती के अवसर पर राज्य स्तरीय विवेकानन्द युवा महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कई बड़ी घोषणा की है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मिशन 60000 की घोषणा करते हुए कहा कि आगामी समय में 1.80 लाख रुपए से कम वार्षिक आय वाले परिवारों के 60000 युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। वहीं सीएम ने घोषणा की है की 60000 ग्रुप सी और डी पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया आगामी कुछ माह में पूरी होगी। 7500 युवाओं को सरकार बनाएगी वन मित्र सीएम मनोहर लाल ने कहा कि मिशन 60000 के तहत, प्रदेश सरकार 1.80 लाख रुपए से कम वार्षिक आय वाले परिवारों के 7500 युवाओं को वन मित्र बनाएगी। इसके अलावा, HKRN के माध्यम से 15,000 संविदा कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी, औद्योगिक प्रतिष्ठानों के लिए 10,000 युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, सीएससी के लिए 7500 ई-सेवा मित्र नियुक्त किए जाएंगे और विदेशी सहयोग विभाग के माध्यम से 5000 ऐसे युवाओं को विदेश में रोजगार की सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/डिग्री वाले 15000 युवाओं को प्रशिक्षित करने और उन्हें ठेकेदार बनने के लिए सशक्त बनाने की घोषणा की। हरियाणा में 1.80 लाख से कम आय वाले परिवारों के 60000 युवाओं को मिलेगी नौकरी, देखें सीएम खट्टर की अन्य घोषणाएं हरियाणा में 1.80 लाख से कम आय वाले परिवारों के 60000 युवाओं को मिलेगी नौकरी, देखें सीएम खट्टर की अन्य घोषणाएं ग्रुप सी व डी के प्रोसेस में सीईटी परीक्षा परिणाम मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी ग्रुप सी और डी के सीईटी परीक्षा परिणाम प्रोसेस में हैं। ग्रुप डी के लिए, लगभग 3.25 लाख उम्मीदवारों ने सीईटी परीक्षा में भाग लिया और परिणाम आज शाम तक घोषित होने की उम्मीद है। हम ऐसी नौकरियों के पत्र अगले 15 दिनों के भीतर 13,500 उम्मीदवारों को दे देंगे। इसके अलावा, ग्रुप सी के लिए भर्ती प्रक्रिया सक्रिय रूप से चल रही है। हमारा लक्ष्य अगले कुछ माह के भीतर ग्रुप सी और डी दोनों के लिए लगभग 60,000 नौकरियां प्रदान करना है। इसके साथ ही वर्तमान सरकार ने अब तक 1.70 लाख सरकारी नौकरियां देकर कीर्तिमान स्थापित किया है।