Jhalko Media

Ram Mandir: अयोध्या में राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा पर पीएम नरेंद्र मोदी ने जारी किया ऑडियो मैसेज, सुनिए क्या कहा...

 | 
Ram Mandir: अयोध्या में राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा पर पीएम नरेंद्र मोदी ने जारी किया ऑडियो मैसेज, सुनिए क्या कहा...
Ram Mandir: अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होने वाली है और सभी राम भगतों को 22 जनवरी के इस ख़ास दिन का बेसब्री से इंतजार है। सोशल मीडिया पर राम मंदिर और भगवान श्रीराम को लेकर आस्था देखी जा सकती है। हर तरफ 'भगवान श्रीराम आ रहे है' का शोर है। इसी कड़ी में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (12 जनवरी) को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा से पहले एक ऑडियो मैसेज जारी किया है। उन्होंने कहा है कि वह 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहे हैं। आपको बता दें तो 22 जनवरी को आयोध्या में श्रीराम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा होने जा रहा है। इसको लेकर अयोध्या में तैयारियां जोरों पर है। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया एक्स (ट्वीटर) पर ट्वीट कर कहा, अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में केवल 11 दिन ही बचे हैं। मेरा सौभाग्य है कि मैं भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनूंगा। प्रभु ने मुझे प्राण प्रतिष्ठा के दौरान, सभी भारतवासियों का प्रतिनिधित्व करने का निमित्त बनाया है। इसे ध्यान में रखते हुए मैं आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। मैं आप सभी जनता-जनार्दन से आशीर्वाद का आकांक्षी हूं। इस समय, अपनी भावनाओं को शब्दों में कह पाना बहुत मुश्किल है, लेकिन मैंने अपनी तरफ से एक प्रयास किया है।'

यहाँ देखें पीएम मोदी का ऑडियो मेसेज 

देशवासियों को 22 जनवरी का इंतजार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ऑडियो मैसेज में कहा, 'जीवन के कुछ क्षण ईश्वरीय आशीर्वाद की वजह से ही यथार्थ में बदलते हैं। आज दुनियाभर में भारतीयों के लिए ऐसा ही एक पवित्र अवसर है। हर तरफ प्रभु श्रीराम की भक्ति का अद्भुत वातावरण है।' उन्होंने कहा, 'देश में हर किसी को 22 जनवरी का इंतजार है और अब अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में सिर्फ 11 दिन बचे हैं। मैं अपने जीवन में पहली बार इस तरह के मनोभाव से गुजर रहा हूं। मैं एक अलग ही भाव-भक्ति की अनुभूति कर रहा हूं।'

11 दिनों का विशेष अुष्ठान कर रहा हूं शुरू: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, 'जिस सपने को अनेकों पीढ़ियों ने अपने दिल में सालों तक रखकर जिया है। मुझे उसकी सिद्धि के समय मौजूद होने का अवसर मिल रहा है। जैसा हमारे शास्त्रों में भी कहा गया है कि हमें ईश्वर की अराधना के लिए खुद में भी दैवीय चेतना जाग्रत करनी होती है।' उन्होंने आगे कहा, 'इसके लिए शास्त्रों में व्रत और कठोर नियम बताए गए हैं। उसके अनुसार मैं आज से 11 दिनों का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। इस पवित्र अवसर पर मैं परमात्मा के श्रीचरणों में प्रार्थना करता हूं।'

नासिक-धाम पंचवटी से शुरू होगा अनुष्ठान

अपने ऑडियो मैसेज में पीएम ने कहा, 'मेरा ये सौभाग्य है कि मैं अपने 11 दिनों के अनुष्ठान का आरंभ मैं नासिक-धाम पंचवटी से कर रहा हूं। पंचवटी वो पावन धरा है, जहां भगवान राम ने काफी वक्त बिताया था। आज मेरे लिए एक सुखद संयोग ये भी है कि आज स्वामी विवेकानंद की जन्मजयंती है।' उन्होंने कहा, 'स्वामी विवेकानंद जी ने ही हजारों वर्षों से आक्रांतित भारत की आत्मा को झकझोरा था। आज वही आत्मविश्वास भव्य राम मंदिर के रूप में हमारी पहचान बनकर सबके सामने है।'