Jhalko Media

Mewaram Jain: सोशल मीडिया पर वायरल हुआ कांग्रेस के पूर्व विधायक का वीडियो, लिया गया ये बड़ा एक्शन

 | 
Mewaram Jain: सोशल मीडिया पर वायरल हुआ कांग्रेस के पूर्व विधायक का वीडियो, लिया गया ये बड़ा एक्शन
Jhalko Media, Rajasthan : Mewaram Jain Viral Video Controversy: कांग्रेस ने पूर्व विधायक मेवाराम जैन (Mevaram Jain Video) का एक कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसने राजस्थान की राजनीति में भूचाल ला दिया है. इस वीडियो के वायरल होने के बाद राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी (आरपीसीसी) ने पूर्व विधायक मेवाराम जैन को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का काम किया है. खबरों की मानें तो कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने जैन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की है और उनके निलंबन का आदेश जारी किया है. आपको बता दें तो किसी भी कथित वायरल वीडियो का दावा झलको मीडिया डॉट कॉम नहीं करता है. कांग्रेस की ओर से जो आदेश जारी किया गया है उसके अनुसार, बाड़मेर के पूर्व विधायक मेवाराम जैन को अनैतिक गतिविधियों में शामिल होने की वजह से तत्काल प्रभाव से कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित करने का फैसला लिया गया है. उनका आचरण कांग्रेस पार्टी के संविधान के तहत अनुशासन के उल्लंघन का स्पष्ट संकेत देता है. जानिये क्या है मामला? दरअसल, एक महिला ने दिसंबर 2023 में बाड़मेर के पूर्व विधायक मेवाराम जैन और राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी आनंद सिंह राजपुरोहित सहित नौ लोगों पर दो साल पहले एक केस दर्ज करवाया था जिसमें उसने दुष्कर्म का तो आरोप लगाया ही... साथ ही, महिला ने ये भी आरोप लगाया कि उसकी किशोर बेटी से छेड़छाड़ किया गया है. मामले पर पुलिस ने बताया कि केस जोधपुर के राजीव गांधी नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया था. ये भी डाला गया दबाव पुलिस की ओर से जानकारी दी गई कि महिला ने यह भी आरोप लगाया कि आरोपी ने उसकी एक नाबालिग सहेली के साथ भी बलात्कार किया और उस पर अन्य लड़कियों को अपने पास लाने का दबाव डाला. प्राथिमिकी में बाड़मेर थानाधिकारी गंगाराम खावा, पुलिस उपनिरीक्षक दाउद खान और प्रधान गिरधारी सिंह सोढा भी नामित हैं। महिला का आरोप है कि उसके पिता की बीमारी के कारण वह करीब पांच साल पहले बाड़मेर के रामस्वरूप के संपर्क में आई और उन्होंने उसे मदद का आश्वासन दिया था। शिकायतकर्ता के मुताबिक, उसकी कमजोरी का फायदा उठाते हुए आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया, कृत्यों को रिकॉर्ड किया और उसका यौन शोषण करता रहा. महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि 2021 में एक फ्लैट पर उसे बाड़मेर के तत्कालीन विधायक मेवाराम जैन से मिलवाया गया और उस दौरान दोनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया. महिला ने आरोप लगाया कि तब से दुष्कर्म का सिलसिला जारी है. उन्होंने उसकी किशोर बेटी के साथ भी छेड़छाड़ की, उसकी एक सहेली के साथ दुष्कर्म किया और उस पर अन्य महिलाओं को भी लाने के लिए दबाव डालने का काम किया गया. वीडियो हुआ था वायरल महिला की ओर से यह भी आरोप लगाया कि पुलिस अधिकारियों और अन्य आरोपियों ने उसे मामले का खुलासा न करने की धमकी दी और कुछ खाली कागजों पर हस्ताक्षर करने के लिए भी दबाव डाला. गौर हो कि एक साल पहले जैन की कुछ सीडी वायरल हुई थी, जिसको लेकर जैन ने सीडी के साथ छेड़छाड़ होने का दावा किया था. उन्होंने बाड़मेर के कोतवाली थाने में मामला दर्ज कराया था.