Jhalko Media

काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?

 | 
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के दिन राम लला की मूर्ती देखने के बाद यकीनन आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा कि भगवान की प्रतिमा आखिर काली क्यों है।

राम मंदिर अयोध्या में रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हो चुकी है.
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
श्रीराम के बाल स्वरूप की मूर्ति को गर्भगृह में स्थापित किया गया है.  
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि रामलला की मूर्ति काले रंग की क्यों है.
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
वाल्मीकि रामायण में भगवान राम के श्यामल रूप का वर्णन किया गया है.  
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
भगवान राम के स्तुति मंत्र में कहा गया है- नीलाम्बुज श्यामल कोमलांगम सीतासमारोपित वामभागम्। पाणौ महासायकचारुचापं नमामि रामं रघुवंशनाथम्।।  
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
नीलकमल के समान श्याम और कोमल अंग हैं जिनमें सीता जी वाम भाग में विराजती हैं, जिनके हाथ में धनुष-बाण है. श्याम शिला की आयु हजारों वर्ष की मानी जाती है. ऐसे में मूर्ति को जल, रोली, चंदन आदि से मूर्ति को नुकसान नहीं पंहुचेगा.
काले रंग की ही क्यों है रामलला की मूर्ति ?
यह जानकारी धार्मिक ग्रंथों और विभिन्न शस्त्रों पर आधारित है.